सपना ही बनकर रह गया चंडीगढ़ मेट्रो प्रोजेक्ट। जानिए क्या रही इसकी वजह..

37 किलोमीटर  के प्रस्तावित ट्रैक वाला मेट्रो प्रोजेक्ट जिसकी अनुमानित लागत 10,900 करोड़ थी, डीपीआर सर्वे पर  1.5 करोड़ रुपये खर्च करने के बाद बंद किया जा चुका है। Image Source एक अध्ययन और एक सर्वेक्षण पर 1.5 करोड़ रुपए खर्च करने में 11 साल का समय लगा। महत्वाकांक्षी मेट्रो परियोजना के भाग्य को गृह मंत्री की सलाहकार समिति ने यह कह कर नकार दिया कि यह परियोजना शहर के लिए व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य(feasible) नहीं है। Image Source ट्रिब्यून इंडिया के सूत्रों ने कहा कि 27 जुलाई को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह…

Read More

खुशखबरी: प्रदेश की पहली इलेक्ट्रिक बस ने पूरा किया अपना पहला कमर्शियल रन

एचआरटीसी की इलेक्ट्रिक बस ने 13 नवंबर को अपना पहला कमर्शियल रन मनाली से रोहतांग तक तय किया। हालांकि अक्टूबर में कुल्लू दशहरा से पहले ही जी. एस. बाली द्वारा इस सेवा को हरी झंडी दिखाई गई थी। यह कदम वातावरण में पेट्रोल तथा डीजल के धूएं की मात्रा में कमी लाने के लिए किया गया है। इन बसों के संचालन से उन लोगों को भी राहत मिलेगी जिन्हें अपनी गाड़ियों को रोहतांग ले जाने के लिए परमिट लेना पड़ता था। बाली जी ने कहा कि एचआरटीसी आने वाले दिनों में…

Read More

कालका शिमला नेशनल हाईवे पर आठ घंटे से जाम, लगातार हो रहा भूस्खलन

पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी वर्षा के कारण प्रदेश में बरसात का कहर जारी है। भारी वर्षा से कालका शिमला नेशनल हाईवे पर लगातार भूस्खलन हो रहा है। पिछले आठ घंटों से नेशनल हाईवे पर जाम लगा है। जाम के चलते जहां राजधानी शिमला में दूध, ब्रेड और अखबार की सप्लाई भी नहीं हो पाई है। नेशनल हाईवे पर पर्यटक और मरीज भी फंसे हुए हैं। यह भी पढ़े। हिमाचल प्रदेश में दौड़ेंगी नई 50 छोटी इलेक्ट्रिक कैब भारी बारिश के कारण ट्रेनों की आवाजाही पर भी असर ट्रेनों…

Read More