fbpx

Tag Archives: Palampur

कांगड़ा जिले का मुख्यालय धर्मशाला है। जिसकी समुद्र तल से ऊंचाई 1597 मीटर है। इसका क्षेत्रफल 5739 वर्ग किलोमीटर है। जनसंख्या के हिसाब से कांगड़ा हिमाचल प्रदेश का सबसे बड़ा जिला है| कांगड़ा जिले के कुछ आंकड़े: जनसंख्या 15,07,223 लिंग अनुपात 1013 जनसंख्या घनत्व 263 साक्षरता दर 86% कांगड़ा का इतिहास कांगड़ा को पुराने समय मे त्रिगर्त नाम से जाना जाता था। यह हिमाचल की सबसे पुरानी रियासत थी जिसकी राजधानी नगरकोट थी। त्रिगर्त रियासत की स्थापना सुशर्माचंद्र ने की थी। सुशर्माचंद्र ने ही नगरकोट किले का निर्माण करवाया था। त्रिगर्त रियासत पर काफी आक्रमण भी हुए जो इस प्रकार है: 1009ई. में महमूद गजनबी ने आक्रमण किया। 1337ई. में मोहम्मद बिन तुगलक ने आक्रमण किया। 1365ई. में फिरोजशाह तुगलक ने आक्रमण किया।1540ई. मे शेरशाह सूरी ने आक्रमण किया और 1620ई. मे जहांगीर ने कांगड़ा के किले पर आक्रमण किया। 1809 में संसारचंद और महाराजा रणजीत सिंह के बीच ज्वालामुखी संधि…

Read more

The Kangra District of Himachal Pradesh is situated in the Western Himalayas between 31°2 to 32°5 N and 75° to 77°45 E. In 1966, Kangra districts was added to Himachal Pradesh which was an Union Territory at that time. The district has a geographical area of 5,739 km. which constitutes 10.31% of the geographical area of the State. Kangra has a sex ratio of 1013 females for every 1000 males and a literacy rate of 86.49%. The native people are the Kangri people and the native language is Kangri, which is very similar to Punjabi. The traditional dress for men was the kurta, pyjamas, and a woolen jacket used in winter. Women generally wear the salwar kameez and with the salwar Kameez girls and women take chuenni (“Chaddru” in local language.) FACTS ABOUT KANGRA DISTRICT THAT YOU PROBABLY DON’T KNOW: 1. Most populous District with 1,510,075 residents. 2. Katoch dynasty of Kangra is known…

Read more

हिमाचल प्रदेश की जनसंख्या 68 लाख से ज्यादा है। हिंदी भाषा को आधिकारिक भाषा का सम्मान प्राप्त है तथा अंग्रेजी भाषा को अतिरिक्त आधिकारिक भाषा के रूप में जाना जाता है। अंग्रेज भाषाविद्वान G.A Grierson ने हिमाचली भाषाओं का पश्चिमी पहाड़ी भाषाओं के रूप में सर्वेक्षण किया पहाड़ी भाषा का अपभ्रश शौरसैनी है। पहाड़ी भाषा की लिपि टांकरी है। हिमाचल में 88.77% लोग( हिंदी पहाड़ी) बोलते हैं और 5.83% लोग पंजाबी बोलते हैं। पहाड़ी भाषा बोलने वालों की संख्या कम होती जा रही है तथा हम इस पर चर्चा करेंगे पर आइए पहले जानते है कि हर जिले में कौन सी तरह की पहाड़ी बोली जाती है। चंबा  चंबा जिले में चंम्बयाली बोली जाती है। चंबा जिले में स्थानीय बोलियां भी बोली जाती हैं जिनमें भटियाली , चुराही, पंगवाली और भरमौरी  है। बिलासपुर बिलासपुर जिले में मुख्य भाषा कहलूरी बोली जाती है। कहलूरी को बिलासपुरी भाषा भी कहा जाता है। यह भी पढ़े। जानिए हिमाचल प्रदेश की पर्वत…

Read more

नूरपुर में मीडिया को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने स्पष्ट किया कि प्रदेश में नए जिले बनाने की कोई संभावना नहीं है। इस बारे में सोशल मीडिया पर कुछ प्रचलित वेबसाइट तथा फेसबुक पेजों द्वारा अफवाह फैलाई जा रही हें की पालमपुर और रामपुर को जिलों में तब्दील किया जाएगा। ज्ञात रहे पिछले कुछ समयु से सोशल मीडिया और वेब साइटों पर एक खबर चल रही थी की प्रदेश में 2 नए जिलों का गठन होगा। वीरभद्र सिंह ने यह भी कहा की सरकार अपने खर्चे कम करने की कोशिश कर रही है। ताकि लोगों का पैसा ज्यादा से ज्यादा प्रदेश के विकास पर खर्च हो सके। उनके अनुसार नए जिले बनाने से खर्चे बढ़ेंगे ऐसे में यह कदम उठाना तर्कसंगत नहीं होगा। हम यह खबरें प्रकाशित करने वाली वेबसाइटों से अनुरोध करते है।कि अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए तथ्यों की पुष्टि करने के बाद ही शेयर करें और जल्दबाजी…

Read more

Image Source शिमला हाईकोर्ट ने केसीसी बैंक की भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा से जुड़े मामले में आदेश दिए हैं की प्रक्रिया जारी रहेगी और भर्ती  का अंतिम रूप केवल शिमला  हाईकोर्ट के आदेश से  ही किया जाएगा। Image Source याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया है कि KCC (Kangra co-operative bank) के लिए होने वाली भर्ती परीक्षा में आरबीआई गाइडलाइंस को दरकिनार कर दिया गया है। इस मामले की अगली सुनवाई शिमला हाईकोर्ट मे 10 अगस्त को होगी|

हिमाचल प्रदेश विश्व प्रसिद्ध है अपनी खूबसूरती के लिए और  इस बार प्रदेश के पर्यटन नगरो में 1 जुलाई से 14 सितंबर तक चयनित होटलों में घूमने आए सभी पर्यटको के लिए 20% से 40% की छूट मिलेगी| मॉनसून पैकेज के तहत यह छूट 1 जुलाई से 14 सितंबर तक रहेगी | इस वर्ष समर सीजन में काफी संख्या में  पर्यटको ने हिमाचल प्रदेश की यात्रा की और यहां की खूबसूरत वादियों में घूमने का लुफ्त उठाया है| मानसून सीजन के दौरान पर्यटक को रिझाने के लिए अब सरकार के द्वारा  मानसून पैकेज जारी किया गया है | Image source चम्बा में लगने वाले मिंजर मेले के अवसर पर 23 से 31 जुलाई तक “होटल इरावती” और “होटल चंपक” (चंबा) में छूट प्रदान नहीं की जाएगी | उधर विंटर सीजन के पैकेज के तहत यह छूट 16 नवंबर से 31 मार्च 2018 तक जारी रहेगी | image source इन  होटल…

Read more

Andretta is a beautiful village in Kangra valley of Himachal Pradesh. It is famous worldwide for its artists’ colony. The artists’ colony was established in the 1920s, when Irish theater artist and environmentalist, Norah Richards, shifted here from Lahore. She was unhappy in England after her husband died and she longed to return. So, when she met an Englishman who was willing to sell her land in Kangra for Rs. 1, she bought it and this place was in Andretta. Image Source It is located near Palampur in the Kangra District, with Dhauladhar range of the Himalayas as a backdrop. Andretta over the years has attracted many noted artists, theater practitioners, painters and more recently potters. Two of the famous people who became associated with it early on were painters Sobha Singh and B.C. Sanyal. Image Source Image Source Tourist attractions in Andretta 1) Andretta Pottery and Craft Society Image Source…

Read more

Palampur is a green hill station and a municipal council in the Kangra Valley in the Indian state of Himachal Pradesh, surrounded by tea gardens and pine forests before they merge with the Dhauladhar ranges. The town has derived its name from the local word palum, meaning lots of water. There are numerous streams flowing from the mountains to the plains from Palampur. So, if you ever decide to visit Palampur then don’t worry, we have got your back ;). Today we will talk about “6 must visit places while you are in Palampur” : Saurabh Van Vihar Saurabh Van Vihar, situated on the bank of snow-fed Neugel Khad, is a nature park that is dedicated to brave soldier Saurabh Kalia (martyr in the Kargil War). Saurabh Van nature park has become a popular picnic spot for people. You can enjoy boating, swimming in pond, bouldering and birdwatching over here. Sobha…

Read more

The Kangra District of Himachal Pradesh is situated in the Western Himalayas between 31°2 to 32°5 N and 75° to 77°45 E. In 1966, Kangra districts was added to Himachal Pradesh which was an Union Territory at that time. The district has a geographical area of 5,739 km. which constitutes 10.31% of the geographical area of the State. Kangra has a sex ratio of 1013 females for every 1000 males and a literacy rate of 86.49%. The native people are the Kangri people and the native language is Kangri, which is very similar to Punjabi. The traditional dress for men was the kurta, pyjamas, and a woolen jacket used in winter. Women generally wear the salwar kameez and with the salwar Kameez girls and women take chuenni (“Chaddru” in local language.) FACTS ABOUT KANGRA DISTRICT THAT YOU PROBABLY DON’T KNOW: 1. Most populous District with 1,510,075 residents. 2. Katoch dynasty of Kangra is known…

Read more

9/9