उत्तराखंड के इस गांव में हुआ था शिवजी और पार्वती का विवाह

त्रियुगीनारायण मंदिर के बारे में वेदों में उल्लेख भी मिलता है कि यह मंदिर त्रेतायुग से स्थापित है। माता पार्वती और भगवान शिवजी के विवाह के बारे में कई पौराणिक कथाएं हैं। ऐसी ही एक कथा उत्तराखण्ड के रूद्रप्रयाग जिले के त्रियुगीनारायण नाम के मंदिर से जुड़ी हुई है। Image Source इस मंदिर में एक ज्योति हमेशा जलती रहती है। स्थानीय लोगों की मान्यता के मुताबिक इस ज्योति के सामने ही भगवान शिवजी और माता पार्वती का विवाह हुआ था। मंदिर में जल रही इस ज्योति के बारे में कहा…

Read More

PaudiWala: the second ladder to Heaven built by Ravana

 Himachal Pradesh is called Devbhoomi which means “Land of God“. There are numerous temples and sacred places in this beautiful little heaven. Each village has their own deities whom they worship and they are considered in every crucial happenings. We will take you on a journey where we will talk about the popular and historically important religious places of Himachal Pradesh one by one. This time we will be talking about “PaudiWala: the second ladder to Heaven built by Ravana“. Mythological Significance: It is believed that once Lord Shiva bestowed…

Read More