fbpx

Tag Archives: HRTC

हिमाचल प्रदेश भारतीय संघ के पहाड़ी राज्यों में से एक है। 70 लाख की आबादी होने की वजह से हर जगह संसाधनों को वितरित करना और उन स्थानों की यात्रा करने के लिए उचित परिवहन अवसंरचना आवश्यक है। हिमाचल प्रदेश के लोगों के लिए बसें परिवहन के मुख्य माध्यमों में से एक हैं। अब दोनों सार्वजनिक और निजी बसें दूर-दूर के क्षेत्रों तक पहुंच रही हैं और इन स्थानों की अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए वे काफी महत्वपूर्ण हैं। इसलिए आज हम एचआरटीसी: हिमाचल रोडवेज ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन के बारे में बात करेंगें। तो आइए जानते हैं एचआरटीसी के बारे में यह 10 बातें: 1. एचआरटीसी का नारा सुरक्षित सेवा, विनम्र सेवा है। 2. निगम को संयुक्त रूप से पंजाब सरकार, हिमाचल प्रदेश और रेलवे द्वारा 1958 में मंडी-कुल्लू रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन द्वारा स्थापित किया गया था। 3. 2 नवंबर 1974 को, निगम पूरी तरह से हिमाचल प्रदेश की सरकार को सौंप…

Read more

Himachal Pradesh is one of the few hilly/mountainous states in the Indian Union. Having a population close to 7 million spread across various terrains & geographies, it is necessary to have a proper transport infrastructure to distribute resources everywhere & ability to travel to those places. Buses are one of the most prominent modes of transport for people in Himachal Pradesh. Now both Public and private buses are reaching the remotest corner and they are one of the biggest factors to drive the economy of these places. So, today we will talk about the State-owned HRTC: Himachal Roadways Transport Corporation & here are 10 Facts about HRTC: Lifeline of Himachal Pradesh 1. The slogan of HRTC is safe service, courteous service. 2. The corporation was jointly founded by the Government of Punjab, Government of Himachal Pradesh and Railways in 1958 as Mandi-Kullu Road Transport Corporation. 3. On 2nd November 1974, the corporation was fully…

Read more

एचआरटीसी की इलेक्ट्रिक बस ने 13 नवंबर को अपना पहला कमर्शियल रन मनाली से रोहतांग तक तय किया। हालांकि अक्टूबर में कुल्लू दशहरा से पहले ही जी. एस. बाली द्वारा इस सेवा को हरी झंडी दिखाई गई थी। यह कदम वातावरण में पेट्रोल तथा डीजल के धूएं की मात्रा में कमी लाने के लिए किया गया है। इन बसों के संचालन से उन लोगों को भी राहत मिलेगी जिन्हें अपनी गाड़ियों को रोहतांग ले जाने के लिए परमिट लेना पड़ता था। बाली जी ने कहा कि एचआरटीसी आने वाले दिनों में कुल्लू में 10 वाहन मुहैया कराएगी तथा उसके बाद यह सेवा दूसरे क्षेत्रों में भी शुरू होगी।उन्होंने कुल्लू में 30 करोड़ से बनने वाले नये बस अड्डे की नींव भी रखी। लगातार समाचार पाने के लिए हमारे facebook group onehimachal से जुड़िए । हिमाचल प्रदेश की सरकारी ऑपरेटर एचआरटीसी अब पहाड़ी राज्यो में प्रथम है जिसके पास इलेक्ट्रिक बस है और…

Read more

रेप केस में डेरा प्रमुख पर कोर्ट का फैसला आने के  चलते चलते हिमाचल पथ परिवहन निगम ने बाहरी राज्यों के  लिए अपने सभी बस सेवा को बंद कर दिया है। HRTC की लगभग 200 से ज्यादा बसें शुक्रवार शाम 5.00 बजे तक चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तराखंड के लिए नहीं चलेंगी। Image Source दिल्ली और बाहरी राज्यों में गईं एचआरटीसी की बसों को अगले आदेश तक वहीं रुकने को कहां है। वोल्वो बसों के सभी रूट रद्द  कर दिया गया है दैनिक अखबार अमर उजाला की खबर के अनुसार शिमला में प्रेस वार्ता मे परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा कि हिमाचल से दिल्ली जाने वाली सामान्य और वोल्वो दोनों ही बसों के सभी रूट रद्द कर दिए गऐ हैं। शिमला से जाने वाली बसें परवाणू और  कांगड़ा की तरफ से जानी वाली बसें भी ऊना तक ही जाएंगी।   माहौल को देखते हुए बिलासपुर और ऊना से…

Read more

हिमाचल प्रदेश में अब eco friendly  छोटे वाहन दौड़ेंगे। परिवहन निगम 50 छोटे इलेक्ट्रॉनिक वाहन खरीदने जा रहा है। ये जानकारी परिवहन मंत्री जीएस बाली ने दी। image source 8 सीटर ये छोटे वाहन शिमला, धर्मशाला समेत कई अन्य स्थानों पर दौड़ेंगे। शिमला में परिवहन निगम की बीओडी की बैठक में इसे हरी झंडी दे दी गई है। परिवहन मंत्री जीएस बाली ने बैठक के बाद इलेक्ट्रिक बसे खरीदने की घोषणा की। image source इन छोटे 50 इलेक्ट्रिक वाहनों की डिलीवरी डेढ़ माह में हो जाएगी। ये वाहन महिंद्रा एंड महिंद्रा से लिए जा रहे हैं। उन्होन कहा बाद में इन वाहनों का रोहतांग में भी ट्रायल किया जाएगा। परिवहन निगम ने निगम में करीब 1500 टीएमपीए को रोजगार दिया जाएगा। इसके लिए जल्द ही आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा कि निगम में दो हजार टीएमपीए की कमी है और इस कमी…

Read more

(शिमला) हिमाचल के शिमला जिले के रामपुर में एक बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई । रामपुर के खनेरी के पास रामपुर-शिमला हाईवे पर निजी बस जोकि किन्नर की साइड से आ रही थी गहरी खाई में जा गिरी। आज सुबह 9 बजे के करीब यह हादसा हुआ। और अभी तक इसमें 37 लोगों के मरने की आशंका जताई जा रही है। राहत और बचाव टीमें शवों और घायलों को खाई से निकालने में जुटी हैं। हादसे में घायल हुए यात्रियों को रामपुर के अस्पताल ले जाया जा रहा है। किन्नौर की और से आ रही इस निजी बस में 35 से अधिक लोग सवार थे और बस रिकांगपिओ से सोलन की ओर जा रही थी। Disclaimer: We don’t claim the authority of the pictures and it belongs to their respective owners.

Image source हिमाचल प्रदेश में लम्बे इन्तजार के बाद इलेक्ट्रिक बस पहुंच गयी है | हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम ने 50 बड़ी बसे और 75 छोटी बसे खरीदने का निर्णय लिया है, जिनमे पहले 26 बसों के लिए आर्डर जारी किया गया है| Image source बसों की कीमत 1 करोड़ 91 लाख के करीब बताई जा रही है|इलेक्ट्रिक बसों को लेकर मनाली, रोहतांग, शिमला,परवाणु और लोकल शिमला और बद्दी में ट्रायल किया गया  है, जो की सफल रहा है |फिलहाल मामला न्यायालय में होने के कारण निर्णय आने के बाद ही आप इन सभी बसों में सफ़र का आनंद उठा सकेंगे| आप हमें अपनी राय बता सकते है की आप इन इलेक्ट्रिक बसों के बारे में क्या सोचते हैं|इस खबर को शेयर भी करें।      

7/7