हिमाचल प्रदेश के 1688 शिक्षकों की नौकरी खतरे में, जानिए क्या है वजह….

Image Source हिमाचल प्रदेश के 1688 अप्रशिक्षित शिक्षक जो सरकारी और निजी स्कूलों में शिक्षा प्रदान कर रहे है,उनकी नौकरी खतरे में पड़ गई है। दरअसल डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन के लिए आवेदन करने वाले शिक्षकों की अभी तक वेरिफिकेशन नहीं हो पाई है । Image Source इन स्कूलों के प्रिंसिपलों को ऑनलाइन माध्यम से ही इस वेरिफिकेशन को करना था और प्रिंसिपलों के सुस्त रवैये के चलते अप्रशिक्षित शिक्षकों के भविष्य खतरे में पड़ गया हैं। यह भी पढ़े। हिमाचल और कश्मीर की लड़कियां क्यों होती हैं इतनी खूबसूरत….. फिलहाल…

Read More

रिकॉर्ड मतदान के कारण कांटे की टक्कर होने की है संभावनाएं। ये आंकड़े हैं उसका प्रमाण..

9 नवंबर को हुए हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों के दौरान हुए रिकॉर्ड मतदान से कांग्रेस के और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को जबरदस्त परिणाम की अपेक्षा हैं। बीजेपी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार होने की वजह से प्रेम कुमार धूमल को कांग्रेस के वीरभद्र सिंह से कड़ा मुक़ाबले सामना करना पड़ा। इस बार मतदाताओं की संख्या पिछले चुनाव से ज्यादा थी जब उन्होंने वहां सीट जीती थीं। अर्की विधानसभा क्षेत्र जहां वीरभद्र सिंह ने चुनाव लड़ा था, वहां 74.36% मतदाताओं ने अपना मत दिया। इससे पहले, सबसे ज्यादा मतदान 73.46% था।…

Read More