fbpx

Category Archives: Transportation

Image Source भुंतर और चंडीगढ़ के बीच चलने वाली एयर इंडिया की हवाई सेवा दो माह के लिए बंद रहेगी। यह फैसला एयर इंडिया ने कोहरे और मौसम की वजह से  लिया है। भुंतर एयरपोर्ट में एयर इंडिया स्टेशन मैनेजर दिनेश भारद्वाज ने बताया कि मौसम ठीक होने पर सेवा सुचारू रूप से बहाल की जाएगी। एयर इंडिया मैनेजर ने बताया कि दो दिसंबर से 31 जनवरी तक के बीच हम कोई भी टिकट नहीं बेचेंगे। Image Source खराब मौसम के कारण दो महीने विमान सेवा बंद भुंतर से दिल्ली के लिए चलने वाली  एयर इंडिया की उड़ान सेवा जारी रहेगी। गौरतलब है कि पहले दिल्ली से कुल्लू  विमान सेवा दी जाती थी और उसके बाद कुल्लू से चंडीगढ़ के लिए यह विमान सेवा दी जाती थी। Image Source यह भी पढ़े किन्नौर में 11 हजार फीट की ऊंचाई पर सड़क बनाकर भारत देगा चीन को टक्कर.. एयर इंडिया के 70 सीटर वाले…

Read more

Image Source Tumuskura शिमला सर्दियों का सीजन शुरू होते ही बर्फबारी को देखने शिमला आने वाले पर्यटकों का तांता लग जाता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए  रेलवे न पर्यटकों को खास तोफा दिया है। उत्तर रेलवेे अब पर्यटकों के लिए 2 नई ट्रेनें चलाएगा। इस खबर की पुष्टि उत्तर रेलवे के सोलन रेलवे स्टेशन मास्टर कमलेश चंद्र ने की है। स्टेशन मास्टर कमलेश चंद्र ने बताया कि यह 2 विशेष ट्रेन दिसंबर और जनवरी माह के बीच चलेगी। उन्होंने कहा कि करीब 15 दिसंबर से दोनों ट्रेनें सुचारू रूप से शुरू हो जाएंगी। Image Source हॉलीडे स्पेशल नाम से चलने वाली इन ट्रेनों क चलनेे के बाद शिमला -कालका रेलवे ट्रेक पर चलने वाली रेल गाड़ियों की संख्या 6 बढ़कर 8 हो जाएगी। जैसे ही  रेलगाड़ियों की संख्या में बढ़ोत्तरी होगी, वैसे वैसे इनके आवागमन के समय में भी बदलाव किए जाएंगे। Image Source गौरतलब है कि इस…

Read more

37 किलोमीटर  के प्रस्तावित ट्रैक वाला मेट्रो प्रोजेक्ट जिसकी अनुमानित लागत 10,900 करोड़ थी, डीपीआर सर्वे पर  1.5 करोड़ रुपये खर्च करने के बाद बंद किया जा चुका है। Image Source एक अध्ययन और एक सर्वेक्षण पर 1.5 करोड़ रुपए खर्च करने में 11 साल का समय लगा। महत्वाकांक्षी मेट्रो परियोजना के भाग्य को गृह मंत्री की सलाहकार समिति ने यह कह कर नकार दिया कि यह परियोजना शहर के लिए व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य(feasible) नहीं है। Image Source ट्रिब्यून इंडिया के सूत्रों ने कहा कि 27 जुलाई को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में, जिसमें पंजाब के राज्यपाल और यूटी प्रशासक वीपी सिंह बांंडोर और अन्य सदस्यों ने भाग लिया था ने परियोजना की लंबाई पर विचार-विमर्श किया था। उन्होंने यह निर्णय लिया गया कि चंडीगढ़ के लिए मेट्रो परियोजना वाणिज्यिक रूप से व्यवहार्य नहीं थी। ट्रिब्यून इंडिया के सूत्रों के मुताबिक, इस मुद्दे पर बैठक में मेट्रो…

Read more

एचआरटीसी की इलेक्ट्रिक बस ने 13 नवंबर को अपना पहला कमर्शियल रन मनाली से रोहतांग तक तय किया। हालांकि अक्टूबर में कुल्लू दशहरा से पहले ही जी. एस. बाली द्वारा इस सेवा को हरी झंडी दिखाई गई थी। यह कदम वातावरण में पेट्रोल तथा डीजल के धूएं की मात्रा में कमी लाने के लिए किया गया है। इन बसों के संचालन से उन लोगों को भी राहत मिलेगी जिन्हें अपनी गाड़ियों को रोहतांग ले जाने के लिए परमिट लेना पड़ता था। बाली जी ने कहा कि एचआरटीसी आने वाले दिनों में कुल्लू में 10 वाहन मुहैया कराएगी तथा उसके बाद यह सेवा दूसरे क्षेत्रों में भी शुरू होगी।उन्होंने कुल्लू में 30 करोड़ से बनने वाले नये बस अड्डे की नींव भी रखी। लगातार समाचार पाने के लिए हमारे facebook group onehimachal से जुड़िए । हिमाचल प्रदेश की सरकारी ऑपरेटर एचआरटीसी अब पहाड़ी राज्यो में प्रथम है जिसके पास इलेक्ट्रिक बस है और…

Read more

पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी वर्षा के कारण प्रदेश में बरसात का कहर जारी है। भारी वर्षा से कालका शिमला नेशनल हाईवे पर लगातार भूस्खलन हो रहा है। पिछले आठ घंटों से नेशनल हाईवे पर जाम लगा है। जाम के चलते जहां राजधानी शिमला में दूध, ब्रेड और अखबार की सप्लाई भी नहीं हो पाई है। नेशनल हाईवे पर पर्यटक और मरीज भी फंसे हुए हैं। यह भी पढ़े। हिमाचल प्रदेश में दौड़ेंगी नई 50 छोटी इलेक्ट्रिक कैब भारी बारिश के कारण ट्रेनों की आवाजाही पर भी असर ट्रेनों की आवाजाही भी पूरी तरह से बंद है। डीसी राकेश कंवर ने बताया कि लगातार हो रहे भूसखलन के कारण दिक्‍कतें पेश आ रही हैं। उन्होंने बताया कि दोपहर 2 बजे तक ट्रैफिक बहाल होने की उम्‍मीद है। नेशनल हाईवे प्रबंधन,और प्रशासन पूरी तरह ट्रैफिक बहाल करने में जुटा हुआ है। अभी भी जाम लगा हुआ है। कुछ देर के…

Read more

Image source हिमाचल प्रदेश में लम्बे इन्तजार के बाद इलेक्ट्रिक बस पहुंच गयी है | हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम ने 50 बड़ी बसे और 75 छोटी बसे खरीदने का निर्णय लिया है, जिनमे पहले 26 बसों के लिए आर्डर जारी किया गया है| Image source बसों की कीमत 1 करोड़ 91 लाख के करीब बताई जा रही है|इलेक्ट्रिक बसों को लेकर मनाली, रोहतांग, शिमला,परवाणु और लोकल शिमला और बद्दी में ट्रायल किया गया  है, जो की सफल रहा है |फिलहाल मामला न्यायालय में होने के कारण निर्णय आने के बाद ही आप इन सभी बसों में सफ़र का आनंद उठा सकेंगे| आप हमें अपनी राय बता सकते है की आप इन इलेक्ट्रिक बसों के बारे में क्या सोचते हैं|इस खबर को शेयर भी करें।      

6/6