fbpx

Category Archives: Top10

हिमाचल प्रदेश मेेें डीएलएड प्राइमरी स्कूल टीचरों के लिए अनिवार्य हो गया है जिससे सैकड़ों शिक्षकों के भविष्य पर खतरा मंडरा रहा है। गौरतलब रहे कि केंद्र सरकार की ओर से जारी की गई निर्धारित न्यूनतम योग्यता के लिए अध्यापकों को डीएलएड करना पड़ेगा। फिलहाल कई निजी और सरकारी स्कूल में पढ़ाने वाले शिक्षक इसे पूरा नहीं कर पा रहे हैं। Image Source डीएलएड करने के लिए योग्यता 12वी कक्षा में 50% अंक होना जरूरी है। जरूरी बात यह है  कि जो शिक्षक 30 नवंबर तक पंजीकरण नहीं करवाएंगे वह शिक्षक (सरकारी व निजी शिक्षक) मार्च 2019 के बाद स्कूलों में पढ़ा नहीं पाएंगे। केंद्र सरकार के आदेश के बाद 31 मार्च, 2019 के बाद से सरकारी व निजी स्कूलों में बिना डीएलएड किए कोई भी शिक्षक प्राथमिक कक्षाओं को नहीं पढ़ा सकेगा। Image Source गौरतलब रहे कि केंद्र सरकार ने बीते कई माह से डीएलएड के प्रति शिक्षकों को…

Read more

Image Source भुंतर और चंडीगढ़ के बीच चलने वाली एयर इंडिया की हवाई सेवा दो माह के लिए बंद रहेगी। यह फैसला एयर इंडिया ने कोहरे और मौसम की वजह से  लिया है। भुंतर एयरपोर्ट में एयर इंडिया स्टेशन मैनेजर दिनेश भारद्वाज ने बताया कि मौसम ठीक होने पर सेवा सुचारू रूप से बहाल की जाएगी। एयर इंडिया मैनेजर ने बताया कि दो दिसंबर से 31 जनवरी तक के बीच हम कोई भी टिकट नहीं बेचेंगे। Image Source खराब मौसम के कारण दो महीने विमान सेवा बंद भुंतर से दिल्ली के लिए चलने वाली  एयर इंडिया की उड़ान सेवा जारी रहेगी। गौरतलब है कि पहले दिल्ली से कुल्लू  विमान सेवा दी जाती थी और उसके बाद कुल्लू से चंडीगढ़ के लिए यह विमान सेवा दी जाती थी। Image Source यह भी पढ़े किन्नौर में 11 हजार फीट की ऊंचाई पर सड़क बनाकर भारत देगा चीन को टक्कर.. एयर इंडिया के 70 सीटर वाले…

Read more

Image Source चीन सीमा से लगते हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले के अति दुर्गम क्षेत्र में एक और सड़क तैयार की जा रही है। यह सड़क चीन सीमा तक पहुंच बनाने के लिए बनाई जा रही है। ठंगी से चारंग तक 20 km सड़क पर तेजी से काम चल रहा है। Image Source इंडो-चाइना बॉर्डर सड़क ICBR योजना के तहत इस सड़क को 2 लेन बनाया जा रहा हैं। इस सड़क के आखरी गांव चारंग से मात्र 10 किलोमीटर दूरी पर चीन सीमा है। इसके आगे जाने पर आईटीबीपी और सेना की पोस्ट तैनात हैं। Image Source इस सड़क  बनने से बड़ी राहत ग्रामीण लोगों के साथ साथ भारतीय सेना को भी मिलेगी । लोक निर्माण विभाग सड़क को चौड़ा करके पैराफिट का निर्माण किया हैं। और साथ ही ड्रेर्नेज सिस्टम को भी बनाया गया है।150 फीट लंबे बैली ब्रिज जो कि क्यारबू नाले पर बन कर तैयार हो चुका…

Read more

Image Source विश्व के सबसे ऊंचे अंतरराष्ट्रीये क्रिकेट स्टेडियम धर्मशाला जिसकी क्षमता करीब 23 हजार दर्शकों की है, आजकल यहां धर्मशाला में होने वाले एक दिवसीय मैच की तैयारियां पुरी जोरों पर हैं। Image Source भारत-श्रीलंका सीरीज का एक मैच अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम धर्मशाला में होने वाला है। इस एक दिवसीय मैच को देखने वालों के लिए टिकट काउंटर खुलेगा पर सस्ती टिकटों के बिना ही संतोष करना पड़ेगा। Image Source ऑनलाइन मिलने वाली सस्ती टिकट इस एक दिसंबर से नहीं मिलेंगी। इसका कारण यह है कि इस एक दिवसीय मैच में सस्ती व स्टूडेंट टिकटों का प्रावधान नहीं है। गौरतलब है कि धर्मशाला स्टेडियम में अब से पहले कई स्टैंड में सीटें नहीं लगाई गई थी। यह भी पढ़े। हिमाचल प्रदेश के 1688 शिक्षकों की नौकरी खतरे में, जानिए क्या है वजह…. इस कारण उन स्टैंडों पर सस्ती टिकटें बेची जा रही थी, इस बार स्टेडियम के सभी स्टैंड में…

Read more

Image Source Tumuskura शिमला सर्दियों का सीजन शुरू होते ही बर्फबारी को देखने शिमला आने वाले पर्यटकों का तांता लग जाता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए  रेलवे न पर्यटकों को खास तोफा दिया है। उत्तर रेलवेे अब पर्यटकों के लिए 2 नई ट्रेनें चलाएगा। इस खबर की पुष्टि उत्तर रेलवे के सोलन रेलवे स्टेशन मास्टर कमलेश चंद्र ने की है। स्टेशन मास्टर कमलेश चंद्र ने बताया कि यह 2 विशेष ट्रेन दिसंबर और जनवरी माह के बीच चलेगी। उन्होंने कहा कि करीब 15 दिसंबर से दोनों ट्रेनें सुचारू रूप से शुरू हो जाएंगी। Image Source हॉलीडे स्पेशल नाम से चलने वाली इन ट्रेनों क चलनेे के बाद शिमला -कालका रेलवे ट्रेक पर चलने वाली रेल गाड़ियों की संख्या 6 बढ़कर 8 हो जाएगी। जैसे ही  रेलगाड़ियों की संख्या में बढ़ोत्तरी होगी, वैसे वैसे इनके आवागमन के समय में भी बदलाव किए जाएंगे। Image Source गौरतलब है कि इस…

Read more

Image Source हिमाचल प्रदेश भाजपा ने रविवार को विश्वास व्यक्त किया कि पार्टी विधानसभा चुनावों में कम से कम 50 सीटें जीत सकती है और एक स्थिर सरकार बना सकती है। Image Source यह भी पढ़े। जानिए हिमाचल प्रदेश के 12 जिलों के प्रसिद्ध मंदिर तथा मठ के बारे में…… Image Source 9 अक्टूबर को हुए हिमाचल प्रदेश चुनावों के बाद की स्थिति की समीक्षा के लिए भाजपा की कोर समिति रविवार को हमीरपुर में बैठक हुई। Image Source यह भी पढ़े। ताज़ा बर्फबारी की वजह से देवभूमि के यह इलाके 6 महीने के लिए शेष दुनिया से कटे “हमने विभिन्न क्षेत्रों से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के बाद चुनाव के बाद की स्थिति पर चर्चा की और कुछ जगहों पर प्रचार में हुई कटौती की रिपोर्टों पर चर्चा की लेकिन यह निष्कर्ष पर पहुंच गया कि पार्टी स्थिर सरकार बनाएगी और 68 में से 50 से अधिक सीट जीत सकती है,”…

Read more

With an estimated cost of the project Rs 10,900cr and proposed city track of 37 km along with amount spent on DPR survey, which was Rs1.5 cr, has ended up in being shut down recently. Image Source 11 years of spending crores of rupees on a study and a survey, the fate of the much-hyped Tricity Metro project has been sealed with the Home Minister’s Advisory Committee deciding that the project is not commercially feasible for the city. Sources of Tribune India said that in the minutes of a meeting of the committee held on July 27 in Delhi under the chairmanship of Union Home Minister Rajnath Singh, which was attended by Punjab Governor and UT Administrator VP Singh Bandore and other members, it was mentioned that the project had been deliberated upon at length and it was decided that the Metro project for Chandigarh was not commercially feasible. Image…

Read more

9 नवंबर को हुए हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों के दौरान हुए रिकॉर्ड मतदान से कांग्रेस के और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को जबरदस्त परिणाम की अपेक्षा हैं। बीजेपी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार होने की वजह से प्रेम कुमार धूमल को कांग्रेस के वीरभद्र सिंह से कड़ा मुक़ाबले सामना करना पड़ा। इस बार मतदाताओं की संख्या पिछले चुनाव से ज्यादा थी जब उन्होंने वहां सीट जीती थीं। अर्की विधानसभा क्षेत्र जहां वीरभद्र सिंह ने चुनाव लड़ा था, वहां 74.36% मतदाताओं ने अपना मत दिया। इससे पहले, सबसे ज्यादा मतदान 73.46% था। प्रेम कुमार धूमल के विधानसभा क्षेत्र सुजानपुर में मतदान का औसत 74.07% था, जबकि पिछले चुनाव में सर्वोत्तम 69.33% था। यह कहा जा रहा है कि जहां से भारी मतदान हुआ है वहां इस बार प्रतियोगियों के बीच मुक़ाबला टक्कर का होगा। 2012 के विधानसभा चुनाव में, राज्य में 72.69% मतदान हुआ, जबकि इस बार यह 74.61 के उच्चतम स्तर…

Read more

“A picture is worth a thousand words”. It refers to the notion that a complex ideas and stories can be conveyed with just a single still image or that an image of a subject conveys its meaning or essence more effectively than a description does. So here is the list of “10 Instagram accounts that will give you a reason to visit Himachal time and again“. They are listed in a random order and all of them are very unique and the only thing common between each one of them is their love for photography and mountains🗻. So, lets get to know them one by one: 1) Anunay Sood (@anunaysood) He is from Delhi but Himachali by lineage, which is the reason for his never ending love for Himachal. Professionally, he is a marketing specialist but a photographer by passion. He loves taking landscape pictures of places less or unexplored…

Read more

Dr.Yashwant Singh Parmar (4 August 1906 – 2 May 1981) was a leader of the Indian National Congress and the first Chief Minister of Himachal Pradesh. He was also the founder of the state Himachal Pradesh and therefore popularly referred as “Himachal Nirmaata“. He was born at Chanhalag village near Bagthan in a Rajput family in the erstwhile princely state of Sirmour. He studied in the Christian College in Lahore and later received his PhD from Lucknow University in 1944. Let us share “10 facts about Himachal Nirmaata Dr. Y.S. Parmar that you must know” 1. He was also a member of the prestigious Constituent Assembly. 2. His father, Bhandari Shivanand was an Urdu and Persian scholar of his time. 3. He led a Satyagraha Movement in Suket State which ultimately led for the formation of Himachal Pradesh in 1948. 4. He stepped down from the post of CM when Himachal…

Read more

10/14