फैसला आने से पहले हिमाचल से बाहर HRTC बस सेवा बंद, पंचकूला पर हेलिकॉप्टर से रखी जा रही है नज़र

रेप केस में डेरा प्रमुख पर कोर्ट का फैसला आने के  चलते चलते हिमाचल पथ परिवहन निगम ने बाहरी राज्यों के  लिए अपने सभी बस सेवा को बंद कर दिया है। HRTC की लगभग 200 से ज्यादा बसें शुक्रवार शाम 5.00 बजे तक चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तराखंड के लिए नहीं चलेंगी।

हिमाचल से बाहर HRTC बस सेवा बंद

Image Source

दिल्ली और बाहरी राज्यों में गईं एचआरटीसी की बसों को अगले आदेश तक वहीं रुकने को कहां है।
वोल्वो बसों के सभी रूट रद्द  कर दिया गया है

दैनिक अखबार अमर उजाला की खबर के अनुसार शिमला में प्रेस वार्ता मे परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा कि हिमाचल से दिल्ली जाने वाली सामान्य और वोल्वो दोनों ही बसों के सभी रूट रद्द कर दिए गऐ हैं। शिमला से जाने वाली बसें परवाणू और  कांगड़ा की तरफ से जानी वाली बसें भी ऊना तक ही जाएंगी।

 

हिमाचल से बाहर HRTC बस सेवा बंद

माहौल को देखते हुए बिलासपुर और ऊना से जाने वाली कुछ बसें चंडीगढ़ के सेक्टर-43 बस अड्डे तक भेजी जा सकती हैं। चंडीगढ़ से नाहन-देहरादून कि और जाने वाले बस रूट को भी रद्द कर दिया गया है ।

इस कदम से एचआरटीसी को प्रतिदिन 10 लाख रुपये से ज्यादा का नुकसान होगा। स्थिति सामान्य होने पर शुक्रवार शाम के बाद बस सेवा चालू हो सकती है। ज्ञात रहे वीरवार को सुबह 11.55 के बाद शिमला से दिल्ली और चंडीगढ़ के लिए कोई बस नहीं गई। हिमाचल प्रदेश में भी हंगामे की आशंका, भारी सुरक्षा बल की तैनाती।

डेरा प्रमुख राम रहीम मामले को लेकर हिमाचल प्रदेश पुलिस भी अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। डेरा प्रमुख के अनुयायियों के प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए पुलिस मुख्यालय ने सभी SP को अलर्ट रहने के नए दिशा निर्देश जारी किए गऐ हैं।

प्रदेश के डीजीपी सोमेश गोयल ने बताया कि डेरा अनुयायियों की बस्तियों और डेरों के आसपास एहतियातन फोर्स तैनात करने को कहा है।

हिमाचल से बाहर HRTC बस सेवा बंद

Sample Image Source

यहां से जाने वाल डेरा अनुयायियों की चंडीगढ़ व पंजाब पुलिस को जानकारी दी जा रही है। सभी जिलों खासकर ऊना, कांगड़ा, सोलन में बटालियनों को स्टैंड बाय रहने को कहा गया है।

हिमाचल में चार लाख अनुयायी, 20 हजार पंचकूला रवाना

हिमाचल से बाहर HRTC बस सेवा बंद

Image Source

हिमाचल में संत गुरमीत राम रहीम के करीब 4 लाख अनुयायी हैं। जिला कांगड़ा के पालमपुर के चचियां नगरी में सबसे बड़ा आश्रम है।
हिमाचल प्रदेश से करीब 20 हजार डेरा अनुयायियों की पंचकूला जाने की सूचना है।

News Source Amarujala.com

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment