राम रहीम पर आने वाला है फैसला, हालात बिगड़े तो सेना बुलाई जा सकती है,कर्फ्यू के भी संकेत। क्या-कया इंतजाम किए गए हैं? पढ़िए पूरी खबर

चंडीगढ़
यौन शोषण मामले में सीबीआई की विशेष अदालत के सामने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की पेशी पर बने रहस्य के बीच पूरे पंचकूला शहर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। 
Image Source
हरियाणा ने केंद्र से और अर्धसैन्य बलों की 115 और कंपनियो की मांग की है। इस  मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा है। हरियाणा मे हालात बिगडने पर सेना को बुलाने और जरूरत और परिस्थितियों के मुताबिक कर्फ्यू भी लगाने के संकेत दिए हैं।
गृह विभाग के  ACS रामनिवास ने navbharattimes अखबार के पत्रकारों से बातचीत के दौरान संकेत दिए कि अगर जरूरत पडी तो सरकार सेना को भी बुलाएगी,परिस्थितियों बिगडी तो कर्फ्यू लगाया जाएगा।

राम रहीम पर आने वाला है फैसला

Image Source Sample Image

डेरा प्रमुख के मामले में 25 अगस्त को सीबीआई की विशेष अदालत अपना फैसला घोषित करती है तो राज्य में कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

इस समय प्रदेश को अर्धसैनिक बलों की 8 अतिरिक्त कंपनियां मिल गई हैं और आंतरिक संसाधनों से 2500 पुलिस कर्मियों का एक अतिरिक्त बल प्रदेश के विभिन्न भागों में तैनाती के लिए जुटाया गया है। भीड़ का प्रबंधन करने के लिए लगभग 2000 होम गार्डस को ड्यूटी पर बुला लिया गया है और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पुलिस बलों की पर्याप्त व्यवस्था कर ली गई है।

जानकारी मिल रही है कि डेरा प्रेमियों की करीब 1.5 लाख भीड़ पंचकूला में पहुंचने के चलते हरियाणा पुलिस डेरा प्रमुख को हेलीकॉप्टर द्वारा सिरसा से पंचकूला ले जाने पर विचार कर रही है।

पंचकूला में इसके लिए अस्थाई हेलिपैड भी बनाया जा रहा है। सूत्रों की माने तो है कि अगर बाबा को सजा सुनाई जाती है तो इस हेलिकॉप्टर से ही उन्हें अंबाला सेंट्रल जेल में ले जाया जाएगा।

 

यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए राम निवास ने कहा कि 10 सीनियर आईपीएस अधिकारियों को महत्वपूर्ण और संवेदनशील स्थानों पर तैनात होने के निर्देश दे दिए गए हैं।  राज्य के पुलिस प्रमुख बीएस संधू ने भी विभिन्न जिलों से डीएसपी स्तर के अफसरों को तलब कर पंचकूला में नाकों पर मुस्तैद कर दिया है।

एसीएस रामनिवास ने डेरा के अनुयायियों को न्यायपालिका में विश्वास रखने और प्रदेश में शांति तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने में प्रशासन की सहायता करने की अपील करते हुए कहा कि नाम चर्चा घरों पर लगातार नजर रखी जा रही है।

सरकारी बस सेवाएं रहेंगी पूरी तरह बंद

राम रहीम पर आने वाला है फैसला

Image Source

हरियाणा सरकार पूरा दिन कानून व्यवस्था के मुद्दे पर एक पैर पर खड़ी दिखाई दी। हरियाणा पुलिस के बड़े अधिकारी अर्धसैन्य बलों के साथ तालमेल कर पंचकूला जिले के चक्कर काटते हुए नाकों पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते दिखाई दिए।

जिलों के उपायुक्तों, SDO और HCS अफसरों की छुट्टियां रद्द करने, पंचकूला जिले मे सभी शिक्षण संस्थाओं को 25 तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं और स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के अफसरों, डॉक्टरों, पैरा मेडिकल स्टाफ के अलावा चंडीगढ़ और पंचकूला में हरियाणा रोडवेज की बसों के ऑपरेशन के सिलसिले में आदेश जारी हुए। पंचकूला में लगने वाली साप्ताहिक मंडियों को तीन दिन के लिए बंद करने के आदेश दिए गए।

राम रहीम पर आने वाला है फैसला

Image Sourceस्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों व अन्य पैरामेडिकल स्टाफ की भी 30 अगस्त तक छुट्टियां नहीं ले सकेंगे।पंचकूला और अंबाला जिला मे प्रशासन ने  बुधवार से 25 तारीख तक जिले के सभी स्कूल व कॉलेजों में भी छुट्टियां कर दी गई हैं।

हरियाणा के कार्मिक विभाग के आदेशों के अनुसार, प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों, उपमंडल अधिकारी (नागरिक) और अन्य एचसीएस अधिकारी अगले आदेशों तक छुट्टियां नहीं ले सकेंगे। यदि जो अधिकारी पहले से छुट्टी पर हैं, उनकी छुट्टी भी कैंसल कर ड्यूटी पर वापस बुला लिया गया है।

सभी यूनिवर्सिटी व कॉलेज बंद

इसके अलावा प्रदेश में स्थित सभी एनसीसी यूनिट, कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय रोहतक, चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा, भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय खानपुर कलां, इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय मीरपुर, चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय जींद, चौधरी बंसीलाल विश्वविद्यालय भिवानी और हरियाणा में स्थित सभी जिला लाइब्रेरी, सब डिवीजनल लाइब्रेरी, सैंट्रल लाइब्रेरी अंबाला छावनी तथा सभी सरकारी, गैर सरकारी, सरकारी सहायता प्राप्त, बीएड कालेज 25 अगस्त 2017 को बंद रहेंगे। हायर एजूकेशन विभाग के निदेशक ए. निवास ने यह जानकारी यहां दी।

शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि अदालत का जो भी निर्णय होगा हरियाणा सरकार उन आदेशों का अनुपालन करेगी और सभी को अदालत के आदेशों की पालना करनी चाहिए। उन्होंने डेरा समर्थकों से अपील की कि वे प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाए रखने में राज्य सरकार का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नागरिकों की रक्षा व सुरक्षा करना राज्य सरकार की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि अगर श्रद्घालु भोजन, पानी की सुविधा के लिए जरूरत महसूस करें तो सरकार उसके लिए तत्पर है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि डेरा प्रेमी बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ तथा स्वच्छता जैसे सामाजिक कार्यों व अन्य धार्मिक कार्यों के अलावा खेल के क्षेत्र में भी समाज का सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने सभी श्रद्घालुओं से शांति, भाईचारा बनाए रखने व अदालती आदेशों की अनुपालना करने के लिए निवेदन किया है।

राम रहीम पर आने वाला है फैसला

Image Source

हंगामे की आशंका के चलते रोडवेज डिपो हिसार ने चंडीगढ़ और पंचकूला जाने वाली बसों को तुरंत प्रभाव से रोक दिया है। हिसार डिपो की कोई भी बस आज से लेकर आगामी आदेशों तक चंडीगढ़-पंचकूला नहीं जाएगी। इस रूट पर चलने वाली बसें अंबाला तक जाएंगी और वहां से वापस लौट आएंगी। पूरे प्रदेश में आज से रोडवेज की बसें चंडीगढ़-पंचकूला नहीं जाएंगी। पूरे प्रदेश में पुलिस और प्रशासन हाई अलर्ट पर है, वहीं डेरा प्रेमियों के तेवर भी तीखे होते जा रहे हैं।

सिरसा जिला प्रशासन ने सख्त हिदायत जारी की है कि अगर किसी ने भी सोशल मीडिया यानि वट्सऐप, फेसबुक या ट्वीटर इत्यादि पर किसी धर्म व सम्प्रदाय आदि के बारे में कोई भी भडक़ाऊ पोस्ट डाली तो ऐसी पोस्ट करने वाले को बख्शा नहीं जाएगा और उस पर कड़ी कानूनी कार्रवाई होगी।

डेरा प्रेमियों का दावा कि पेशी के दिन 8 लाख के करीब डेरा प्रेमी पंचकूला सीबीआई कोर्ट के बाहर मौजूद रहेंगे।

पुलिस और अर्ध सैनिक बलों द्वारा संवेदनशील इलाकों में लगातार फ्लैग मार्च किया जा रहा है।

हिसार के निकट गंगवा गांव में स्थित डेरे की शाखा में चल रहे सत्संग और गतिविधियों पर पुलिस प्रशासन की पैनी नजर बनी हुई है। खुफिया विभाग के अधिकारी भी डेरे पर पल-पल नजर गडाए हुए हैं। रात को हिसार बस अड्डे पर सादी वर्दी में भी पुलिस फोर्स तैनात रही।

डेरा प्रेमियों ने उड़ाई धारा 144 की धज्जियां

राम रहीम पर आने वाला है फैसलाImage Source

डेरा सच्चा सौदा के प्रेमियों ने हरियाणा सरकार को बड़ी चुनौती देते हुए पंचकूला में डेरा डाल लिया है। डेरा प्रेमियों ने खुलकर धारा 144 की धज्जियां उड़ाई और पुलिसकर्मी मूक दर्शक बनकर देखते रहे। डेरा प्रेमियों की संया को देखते हुए हरियाणा सरकार द्वारा किए गए तमाम प्रबंध नाकाफी साबित हो रहे हैं।

राम रहीम पर आने वाला है फैसला

Image Source

बुधवार को पंचकूला में पैरामिलिट्री फोर्स ने फ्लैग मार्च किया और ड्रोन कैमरों ने पार्कों की निगरानी की जहां बीती रात से डेरा प्रेमी जमा हुए हैं। CID इनपुट के बाद हरियाणा सरकार ने बुधवार को पंचकूला स्थित सीबीआई कोर्ट के अलावा इस मामले की सुनवाई कर रहे जज तथा सीबीआई वकील की सुरक्षा भी बढ़ा दी है।

News Source navbharattimes

OneHimachal फेसबुक पेज लाइक करें

Facebook Comments

No responses yet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *